December 3, 2022

पर्वतारोहियों के रेस्क्यू ऑपरेशन में बाधा बना खराब मौसम; आज निकले गए इतने शव

Read Time:2 Minute, 29 Second

उत्तराखंड: उत्तरकाशी के द्रौपदी का डांडा चोटी पर हुए एवलांच की चपेट में आकर क्रेवास में दबे नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के प्रशिक्षु पर्वतारोहियों की खोज के लिए गुरुवार को भी अभियान चलाया जा गया। निम और एसडीआरएफ की रेस्क्यू टीम ने आज 12 ओर शव न‍िकाले। जिसके बाद अब तक कुल संख्‍या 16 पहुंच गई है। जबक‍ि 13 अभी भी लापता हैं। वहीं मौसम खराब हो जाने से रेस्‍क्‍यू रोका गया।
नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के रजिस्ट्रार विशाल रंजन ने कहा कि जो शव बरामद हुए हैं, सभी को बेस कैंप में लाया जा रहा है। मौसम अनुकूल होने पर रिकवर किए गए शवों को शुक्रवार को हैलीकाप्टर के जरिए मातली हेलीपैड पहुंचाया जाएगा। वर्तमान समय में द्रौपदी का डांडा क्षेत्र में हल्की बर्फबारी हो रही है जिसके कारण रेस्क्यू अभियान फिलहाल रोका गया है।

वही, एवलांच में लापता हुए प्रशिक्षु पर्वतारोहियों के बचाव के लिए जम्मू कश्मीर के हाई एल्टीट्यूड वारफेयर स्कूल गुलमर्ग की रेस्क्यू टीम पहुंची है। इस टीम को द्रौपदी डांडा के बेस कैंप क्षेत्र में उतारा गया है।

डीएम ने दिए ट्रेकिंग बंद करने के आदेश

जिलाधिकरी अभिषेक रूहेला ने ट्रेकिंग व पर्वतारोहण दलों की सुरक्षा के मद्देनजर ट्रेकिंग व पर्वतारोहण गतिविधियां बंद रखने का निर्णय लिया है। आदेश के अनुसार इस दौरान किसी भी दल को ट्रेकिंग व पर्वतारोहण के लिए अनुमति प्रदान नहीं की जाएगी। जिलाधिकारी ने बताया कि उच्च हिमालय क्षेत्र में पहले से ट्रेकिंग व पर्वतारोहण के लिए गए दलों को भी मौसम संबंधी जानकारी दी जा रही है जिससे वे सुरक्षित स्थानों पर रुक सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Crime