Chhattisgarh Woman And Children Found Hanging Over Illicit Relationship

शादी के 6 महीने बाद बच्चे के जन्म पर दंपती में हुआ विवाद; अब 3 साल बाद 2 बच्चों के साथ फांसी पर लटकी मिली मां

कांकेर.

छत्तीसगढ़ के कांकेर में भुनेश्वरी ध्रुव (28) और उसके दो बच्चों की मौत अवैध संबंधों की कहानी में उलझ गई है। शादी के 6 माह बाद ही भुनेश्वरी ने बेटी को जन्म दिया था। जिसके बाद पति-पत्नी में बीच विवाद शुरू हुआ। इसको लेकर पंचायत भी हुई और विवाद शांत होने का दावा भी किया गया। अब आशंका जताई जा रही है कि इसी विवाद के चलते घटना हुई होगी। फिलहाल ग्रामीण और परिजन शुक्रवार सुबह पोस्टमार्टम के लिए शव सारवंडी ले गए हैं।

ग्रामीणों के अनुसार, धमतरी के नगरी निवासी भुनेश्वरी की शादी अप्रैल 2019 में मुसुरपुट्टा के चेतन ध्रुव के साथ समाजिक रिति रिवाज से हुई थी। इसके 6 माह बाद ही भुवनेश्वरी ने देविका को जन्म दिया। इसे लेकर गांव में बैठक भी हुई। समझाइश के बाद दूसरे की पुत्री होने के बाद भी पति ने उसे अपना लिया था। बीच-बीच में इसे लेकर दोनों के बीच विवाद होता रहता था। हालांकि काफी लंबे समय से दोनों के बीच झगड़ा नहीं हुआ था।

Chhattisgarh Woman Suicide After Killing Two Children In Kanker
दो बच्चों की हत्या कर महिला ने फांसी लगा ली थी

लड़की के परिजन बोले- तीन दिन से फोन नहीं उठा रहे थे दंपती

भुवनेश्वरी के जीजा सोहित मरकाम और चचेरे भाई अंकित ने बताया वे पिछले तीन दिन से फोन कर रहे थे। लेकिन पति-पत्नी दोनों ने फोन नहीं रिसीव किया। इस मामले में पति चेतन ध्रुव का कहना है कि वह काम में व्यस्त होने के कारण फोन नहीं उठा पाया होगा। वहीं भुवनेश्वरी का अपने मायके वालों से बात नहीं करने को लेकर कारण स्पष्ट नहीं हो पा रहा है।

साड़ी के आंचल से फंदा बनाकर लटकाया था बच्चों को

दरअसल, मुसुरपुट्टा में गुरुवार को भुनेश्वरी ने अपने दो बच्चों देविका (ढाई साल) व टिकेश्वर (11 माह) को फांसी पर लटका दिया। फिर खुद भी जान दे दी थी। बच्चों को लटकाने के लिए भुवनेश्वरी ने अपनी साड़ी के ही आंचल से फंदा बनाया था। बताया जा रहा है कि घटना के दौरान पति और परिवार के अन्य सदस्य खेत पर काम करने के लिए गए थे। दोपहर में जब चेतन लौटा तो दरवाजा अंदर से बंद था। उसने दरवाजा तोड़ा तो अंदर तीनों के शव लटके थे।

मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ की।
मौके पर पहुंची पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ की।

पहले भी जिले में हुई ऐसी घटनाएं

परिवार की हत्या कर स्वयं खुदकुशी करने का जिले में यह पहला मामला नहीं है। पहले भी एसी घटनाएं होती रही हैं।

  • शहर के शिवनगर में एक शटर मिस्त्री ने 5 साल पहले किराए के मकान में पत्नी की हत्या कर फांसी लगा खुदकुशी कर ली थी। इस दौरान उनका 8 साल का बेटा अंदर कमरे में था। सुबह जब वह उठा तो माता पिता का शव मिला।
  • भानुप्रतापपुर के तहसीलपारा में बर्खास्त सहायक आरक्षक दयाराम उसेंडी का अगस्त 2019 में पत्नी से विवाद हो गया था। इसके बाद उसने पहले तो पुत्र पर डंडे से वार किया। इसके बाद रात में बिस्तर में सो रही पत्नी पर कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ वार कर स्वयं फांसी लगा कर जान दे दी।

मामले की कर रहे जांच

SDOP चित्रा वर्मा ने कहा घटना का कारण अबतक सामने नहीं आया है। पुलिस सभी बिंदुओं को ध्यान में रख जांच कर रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कुछ स्पष्ट हो सकता है। उसके आधार पर आगे जांच की दिशा तय होगी। परिवार से भी पूछताछ की जाएगी।

यह भी पढ़ें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Crime