AAP छत्तीसगढ़ प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी

AAP प्रदेश अध्यक्ष को जान से मारने की धमकी; कोमल हुपेंडी को कॉल कर कहा- तुझे ऐसे ही निपटा दूंगा

Read Time:2 Minute, 31 Second

कांकेर.
आम आदमी पार्टी (AAP) के छत्तीसगढ़ प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी को जान से मारने की धमकी दी गई है। उनको किसी व्यक्ति ने कई कॉल किए और गालियां देते हुए कहा कि तुझे ऐसे ही निपटा देंगे। इसके बाद से ही कोमल हुपेंडी खौफ में हैं। उन्होंने इस संबंध में कांकेर के भानुप्रतापपुर थाने में FIR दर्ज कराई है। इसके बाद पुलिस जिस नंबर से कॉल आया उसके संबंध में जानकारी जुटा रही है।

AAP प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने अपनी शिकायत में पुलिस को बताया कि 8 जनवरी की रात करीब 8 बजे से रात 10 बजे तक लगातार अज्ञात व्यक्ति ने उनके मोबाइल पर कॉल किया। पहली बार कॉल करने वाले ने गाली-गलौज की। इस पर किसी विवाद में पड़ने से बचने के लिए उन्होंने कॉल डिस्कनेक्ट कर दिया। इसके बाद भी उनके मोबाइल पर कॉल आता रहा और जान से मारने की धमकी दी।

कॉल करने वाले ने गालियां देते हुए मारपीट करने और जान से मारने की धमकी देते हुए कहा कि ‘तेरी क्या औकात है, तू प्रदेश अध्यक्ष बन गया है। तुझे ऐसे ही निबटा दूंगा।’ कोमल हुपेंडी ने बताया कि मोबाइल नंबर 9131636567 से कॉल किया गया। वह एक राजनीतिक दल के पदाधिकारी हैं और उनका कई जगह दौरा रहता है। इस तरह फोन आने से उनके साथ कभी भी अनहोनी होने की आशंका है।

कुछ महीने पहले भी आया था धमकी भरा कॉल
कोमल हुपेंडी ने यह भी बताया कि कुछ माह पहले भी उन्हें कॉल आया था। तब उसे इतना गंभीरता से नहीं लिया गया था। अब बार- बार कॉल आने से इसे लेकर चिंता होने लगी है। थाना प्रभारी तेज वर्मा ने कहा कोमल हुपेंडी के मोबाइल पर जिस नंबर से कॉल आया उसकी जांच की जा रही है। इसमें कभी गोविंदा तो कभी अन्य नाम दिखाता है। नंबर को जांच के लिए साइबर सेल को भेजा गया है।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Vidhansabha Election विधानसभा चुनाव की खास बातें Previous post कोरोना के बीच चुनावी लहर/UP में 7, मणिपुर में 2, गोवा, पंजाब और उत्तराखंड में सिंगल फेज में मतदान; 10 फरवरी से वोटिंग, 10 मार्च को नतीजे
दोनों भाइयों के हौसले से पकड़े गए डकैत Next post डकैतों से भिड़े 2 भाई, एक को पटक कर पकड़ा; नक्सली बता फरसा-बंदूक लेकर घर में घुसे 5 डकैत, 3 को दौड़ाकर दबोचा
Close

Crime